Wednesday, August 25, 2010

कोसी की दग्‍ध अंतर-कथा



हाल ही में कर्नल अजित दत्‍त के शोधपूर्ण आलेखों का संग्रह 'कोसी की दग्‍ध अंतर-कथा' के नाम से संवदिया प्रकाशन, अररिया से प्रकाशित हुआ है। इस पुस्‍तक में कुल 16 लेख संकलित हैं, जिनमें कोसी नदी और अंचल से जुड़ी ऐतिहासिक, पौराणिक, मिथकीय और समसामयिक विषय-वस्‍तुओं और संदर्भों का रोचक प्रस्‍तुतीकरण किया गया है। लेखक के अनुभवों और ज्ञान से पाठक अभिभूत हुए बिना नहीं रह सकता। ये लेख लोक साहित्‍य और संस्‍कृति के विस्‍मृत पहलुओं को भी सामने लाते हैं। कुछ महत्‍वपूर्ण विषय हैं--भगैत गायन, लोक देव, लोक देवियॉं, ईलोजी, सुल्‍तान माई, परवाहा युद्ध, फरमान नदी, कोसी नदी, वीरनगर विसहरिया, बल्‍िदयाबाड़ी का युद्ध, सिंहेश्‍वर थान, कोसी अंचल की ऐतिहासिक धरोहरें।
कर्नल अजित दत्‍त का जन्‍म 18 जुलाई, 1948 ई. को कोसी अंचल के मधेपुरा जिलांतर्गत हनुमान नगर में हुआ। आपकी प्रारंभिक शिक्षा ली एकेडमी, फारबिसगंज में हुई, बाद में आपने पटना विश्‍वविद्यालय से भौतिकी में स्‍नातकोत्‍तर उपाधि प्राप्‍त की। आपने 1971 ई. में कमीशंड ऑफिसर के रूप में भारतीय सेना में अपने कार्यजीवन की शुरुआत की और बाद में पैराशूटिंग फोर्स के लिए चुन लिए गए, फिर एलीट स्‍ट्राइक फोर्स से जुड़े और लखनऊ के एडमिनिस्‍ट्रेटिव कंमांडेंट के रूप में कार्य किया। पर्वतारोहण आपका खास शौक रहा और भारत एवं विदेशों में आपने दो दर्जन से अधिक अभियानों में सफल भागीदारी की।
कर्नल दत्‍त की उपलब्‍धियों में भारत के राष्‍ट्रपित द्वारा सेना मेडल सम्‍मान (गैलेंट्री)-1992, चीफ ऑफ द आर्मी स्‍टाफ्स कमांडेशन कार्ड'1976 एवं 1996 तथा जनरल दौलत सिंह ट्रॉफी अवार्ड-1986 शामिल हैं। आप रॉयल ज्‍योग्राफिकल सोसायटी, लंदन के फेलो (1991) रहे और बार्सीलोना (स्‍पेन) एवं नेवादा (अमेरिका) में क्रमश: 1991 एवं 1992 में आयोजित इंटरनेशनल मीट ऑफ यू.आई.ए. माउंटेनियरिंग कमीशन में भारत का प्रतिनिधित्‍व किया। आपने हिमालयन माउंटेनियरिंग इंस्‍टीट्यूट, दार्जीलिंग (मई 1990-फरवरी 1995) तथा नेहरू इंस्‍टीट्यूट ऑफ माउंटेनियरिंग, उत्‍तरकाशी (मई 1997-नवंबर 2000) के प्रिंसिपल के रूप में भी कार्य किया। आप पश्‍चिम बंगाल सरकार के मानद वाइल्‍ड लाइफ वार्डन हैं। आपने पर्वतारोहण के उद्देश्‍य से स्‍विटजरलैंड, फ्रांस, जर्मनी, इंग्‍लैंड, नेपाल और भूटान देशों की यात्रा की है।
कर्नल अजित दत्‍त ने अंग्रेजी और हिन्‍दी में अनेक महत्‍वपूर्ण पुस्‍तकों की रचना की है। आपके आलेख प्रमुख पत्र-पत्रिकाओं में निरंतर प्रकाशित होते रहे हैं। आपकी अन्‍य प्रकाशित पुस्‍तकें हैं--अंग्रेजी में--कॉल ऑफ द वैली (Call of the valley, 1991), ब्रेव शेरपाज (Brave Sherpas, 1993), क्‍लाइंबिंग एडवेंचर इन अरुणाचल (Climbing adventure in Arunachal, 1994), फर्स्‍ट क्‍लाइंब ऑफ माउंट मुकुट ईस्‍ट (First climb of Mount Mukut East, 1999), फारबिसगंज जंक्‍शन (Forbeseganj Junction, 1998), दस स्‍पोक नचिकेता (Thus spoke Nachiketa, 2000) तथा हिन्‍दी में--नचिकेता उवाच (2000) एवं अभियान कथा (2005)।
उक्‍त पुस्‍तक प्राप्‍त करने के लिए निम्‍नांकित पते पर संपर्क किया जा सकता है :
संवदिया प्रकाशन, जयप्रकाश नगर, वार्ड नं. 7, अररिया, बिहार 854311,
ई-मेल : samvadiapatrika@yaoo.com

9 comments:

  1. ब्‍लागजगत पर आपका स्‍वागत है ।

    किसी भी तरह की तकनीकिक जानकारी के लिये अंतरजाल ब्‍लाग के स्‍वामी अंकुर जी,
    हिन्‍दी टेक ब्‍लाग के मालिक नवीन जी और ई गुरू राजीव जी से संपर्क करें ।

    ब्‍लाग जगत पर संस्‍कृत की कक्ष्‍या चल रही है ।

    आप भी सादर आमंत्रित हैं,
    http://sanskrit-jeevan.blogspot.com/ पर आकर हमारा मार्गदर्शन करें व अपने
    सुझाव दें, और अगर हमारा प्रयास पसंद आये तो हमारे फालोअर बनकर संस्‍कृत के
    प्रसार में अपना योगदान दें ।
    यदि आप संस्‍कृत में लिख सकते हैं तो आपको इस ब्‍लाग पर लेखन के लिये आमन्त्रित किया जा रहा है ।

    हमें ईमेल से संपर्क करें pandey.aaanand@gmail.com पर अपना नाम व पूरा परिचय)

    धन्‍यवाद

    ReplyDelete
  2. महत्वपूरण जानकारी देने के लिए धन्यवाद्|

    ReplyDelete
  3. हिंदी ब्लाग लेखन के लिए स्वागत और बधाई
    कृपया अन्य ब्लॉगों को भी पढें और अपनी बहुमूल्य टिप्पणियां देनें का कष्ट करें

    ReplyDelete
  4. देवेन्द्र जी स्वागत है ब्लॉगजगत में...

    शुभकमनायें
    चन्दर मेहेर

    lifemazedar.blogspot.com
    kvkrewa.blogspot.com

    ReplyDelete
  5. ब्लॉगजगत में स्वागत शुभकमनायें

    ReplyDelete
  6. beautifully written !

    congrats n welcome !

    ReplyDelete
  7. इस नए सुंदर से चिट्ठे के साथ आपका हिंदी ब्‍लॉग जगत में स्‍वागत है .. नियमित लेखन के लिए शुभकामनाएं !!

    ReplyDelete

  8. बेहतरीन पोस्ट लेखन के बधाई
    ब्लाग जगत में आपका स्वागत है
    आशा है कि अपने सार्थक लेखन से ब्लाग जगत को समृद्ध करेंगे।

    आपकी पोस्ट की चर्चा ब्लाग4वार्ता पर है-पधारें

    ReplyDelete